खैरागढ़ : जिला पंचायत सहकारिता सभापति विप्लव साहू के नेतृत्व में एड शेखू वर्मा, भजन दास, शंकर वर्मा, भागवत वर्मा, उत्तम सिन्हा, मिलन वर्मा, देरहा दास आदि किसानों के साथ ज्ञापन सौंपा गया. रकबा में जीरो और अंतर में सुधार के लिए दर्जनों किसान तहसील कार्यालय में भटक रहे हैं, आपाधापी मची हुई है. शासन के निर्देशानुसार पूर्व में पंजीकृत कृषक अपने पंजीयन हेतु आशान्वित और संतुष्ट थे किंतु अभी किसानों की सूची आने पर ज्ञात हुआ कि कई किसानों का नाम पंजीयन सूची में नहीं है अर्थात अंकित नही है, रकबा जीरो है. जो कृषकों के लिए बड़ी परेशानी का कारण बन गया है. जबकि शासन के निर्देशों का पालन करते हुए हम गत वर्षो से अपना धान बेचते और कर्ज अदायगी करते रहे. क्योंकि यदि संशोधित सूची पुर बदलाव नहीं करते हैं तो हम किसानों का उत्पादन मुश्किल होगा. शासन अपने पंजीयन सुधार की तारीख 25 नवंबर को बढ़ाते हुए अधीनस्थ समिति कर्मियों को संशोधित आवेदन लेने हेतु आदेशित करें. ताकि की रीढ़ किसानों को तकलीफ न हो, उन्हें विक्रय और उत्पादन में आसानी हो,
तभी किसानों की असंतुष्टि और विरोध से बचा जा सकता है.

 

हमारे ग्रुप से  जुड़ने लिंक पर क्लिक करें

https://chat.whatsapp.com/D9gPJyMgi5xCdBcmxyl9ow