राजनांदगांव : बामसेफ इंटरनेशनल बुद्धिस्ट नेटवर्क राष्ट्रीय आदिवासी विकास परिषद एवं राष्ट्रीय आदिवासी कर्मचारी संघ के तत्वावधान में 26 सितंबर, रविवार को एकदिवसीय अधिवेशन रविवार को पद्म श्री गोविंदराम निर्मलकर ऑडिटोरियम राजनांदगांव में कार्यक्रम आयोजित हो रहा है। जिसमे जिला पंचायत में मुढ़ीपार क्षेत्र से निर्वाचित सदस्य और सहकारिता और उद्योग समिति के चेयरमैन  विप्लव साहू भी शिरकत करेंगे और अपना उद्बोधन कार्यक्रम में देंगे। विप्लव साहू ने सभी सुधि जागरूक और विकासशील, साक्षर, उत्सुक लोगों से कार्यक्रम में उपस्थित की विनम्र अपील की है। स्थान - ऑडिटोरियम भवन, गौरव पथ, शासकीय विज्ञान महाविद्यालय के पास राजनंदगांव में संपन्न होगा। कार्यक्रम के विषय अंतर्गत- तमाम राजनीतिक पार्टियों में ओबीसी, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति तथा धार्मिक अल्पसंख्यक समुदाय के नेताओं की पोजीशन और पावर। पोजीशन को पावर समझने की भूल से व्यवस्था परिवर्तन कदापि संभव नहीं, एक गंभीर विश्लेषण।
निजीकरण से भारतीय लोकतंत्र को पूंजीवाद में परिवर्तन करने का और इसकी आड़ में ओबीसी, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति तथा धार्मिक अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों को मिले हुए संवैधानिक आरक्षण खत्म करने का षड्यंत्र। एक गंभीर चिंतन और मनन।

                                                           अधिवेशन दो सत्र में संपन्न होगा अधिवेशन,

प्रथम सत्र 10:00 बजे और दूसरा सत्र दोपहर 2:00 बजे होगा जिसमें माननीय के आर झारिया एडिशनल कमिश्नर छत्तीसगढ़ राज्य जीएसटी, अध्यक्षता डी आर आहिल राष्ट्रीय महासचिव बामसेफ नई दिल्ली, संजय बोरकर साहब प्रमुख प्रशिक्षक बामसेफ छत्तीसगढ़, मान. एडवोकेट साकिर कुरेशी, अन्य वक्ताओं में सुदेश टीकम राजनांदगांव, सरोज ताई आगलावे नागपुर, प्रोफेसर जी पी रात्रे राजनांदगांव, भीमराव बागड़े राजनांदगांव, आदिल रिजवी साहब सामाजिक कार्यकर्ता राजनांदगांव, प्रज्ञा ताई कांडे भिलाई, शिव शंकर सिंह गौड़ अध्यक्ष न्यू उड़ान रिसर्च सेंटर प्राइवेट लिमिटेड राजनांदगांव आदि माननीयों की गरिमामय आतिथ्य में जिला अधिवेशन संपन्न होगा। जिसमें बामसेफ यूनिट राजनांदगांव छत्तीसगढ़ में समाज के समस्त कार्यकर्ता, ट्रेडर्स, मूलनिवासी से उक्त कार्यक्रम में गरिमामय उपस्थिति का निवेदन अनुरोध है। उक्त विषय की जानकारी बामसेफ के जिला यूनिट कमांडर एस के बालाधरे द्वारा दी गई।